मसाला: छोटी इलायची, नीलाम की तारीख: 05-Dec-2019, नीलामकर्ता: Cardamom Planters' Association, Santhanpara, लोटों की संख्या: 94, आवक की मात्रा(कि.ग्रा.): 15129.8, बिकी मात्रा (कि.ग्रा.): 13258, अधिकतम मूल्य (रु./कि.ग्रा.): 2996.00, औसत मूल्य (रु./कि.ग्रा.): 2796.47 मसाला: छोटी इलायची, नीलाम की तारीख: 05-Dec-2019, नीलामकर्ता: The Cardamom Processing & Marketing Co-Operative Society Ltd, Kumily, लोटों की संख्या: 278 , आवक की मात्रा(कि.ग्रा.): 66537.5, बिकी मात्रा (कि.ग्रा.): 64395.7, अधिकतम मूल्य (रु./कि.ग्रा.): 3168.00, औसत मूल्य (रु./कि.ग्रा.): 2834.62 Spice: Large Cardamom, Date: 05-Dec-2019, Market: Singtam, Type: Badadana, Price (Rs./Kg): 438, Spice: Large Cardamom, Date: 05-Dec-2019, Market: Singtam, Type: Chotadana, Price (Rs./Kg): 400, Spice: Large Cardamom, Date: 05-Dec-2019, Market: Gangtok, Type: Badadana, Price (Rs./Kg): 450, Spice: Large Cardamom, Date: 05-Dec-2019, Market: Gangtok, Type: Chotadana, Price (Rs./Kg): 400, Spice: Large Cardamom, Date: 05-Dec-2019, Market: Siliguri, Type: Badadana, Price (Rs./Kg): 520, Spice: Large Cardamom, Date: 05-Dec-2019, Market: Siliguri, Type: Chotadana, Price (Rs./Kg): 407,
Inner Page Banner

मसाला सूचीपत्र

अंतिम अद्यतन 12-11-2015, 10:20
भारत कई प्रकार के मसालों का उत्पादन करता है। भिन्न-भिन्न प्रकार के इन मसालों का वर्तमान उत्पादन लगभग चार अरब यू एस डोलर मूल्य के करीबन 3.2 दशलक्ष टन है और विश्व मसाला उत्पादन में भारत का महत्वपूर्ण स्थान है। विभिन्न प्रकार की जलवायु के कारण - उष्णकटिबंध क्षेत्र से उपोष्ण कटिबंध तथा शीतोष्ण क्षेत्र तक - लगभग सभी तरह के मसालों का बढिया उत्पादन भारत में होता है । असल में भारत के लगभग सभी राज्यों व संघ शासित क्षेत्रों में कोई-न-कोई मसाला बढ़ता है। संसद द्वारा पारित अधिनियम के तहत, स्पाइसेस बोर्ड के अधिकार-क्षेत्र के अधीन कुल 52 मसाले लाए गए हैं। वैसे आई एस ओ की सूची में 109 मसालों के नाम शामिल हैं ।
मसाला उत्पाद
Cardamom (large)

बडी इलायची अंत:भौमिक प्रकन्दों व 50-140 वायवीय पत्तों सहित प्ररोहों वाला एक बारहमासी शाक है। प्रत्येक प्ररोह की ऊँचाई 1.7 से 2. 6 मीटर होती है और प्रत्येक तलशाखाओं में 9 से 13पत्ते होते हैं। पत्ते...

Cassia

सिनैमोममं कैसिया (चीनी सिन्नमोमं), एक छोटे झाडीनुमा सदाबहार सीधे व बेलनाकार तना वाले वृक्ष, जिसकी ऊंचाई 18.20 मी. व व्यास 40.60 से.मी. है और उसका रंग धुंधले भूरे और पकने पर 13.15 मि.मी. मोटी होती ह...

Celery

पत्तियों, बीजों, तैलीराल व वाष्पशील तेल केलिए बढाई जानेवाली सेलरी पुष्पछत्रदर, ऐरोमाटिक, शाकीय पौधा है। सेलरी का पौधा सामान्यत: 30-60 से.मी. ऊँचा, स्पष्ट गाँठोंवाले तनों में ऊर्ध्व, लम्बे-चौडे पर्ण...

'असली दालचीनी' या श्रीलंकाई दालचीनी 'सिनमोमं वीरम' की शुष्क आन्तरिक तना छाल है। दालचीनी के पौधे झाडीनुमा बढते हैं । पौधे जब दो साल के होते हैं, उनकी ऊँचाई सामान्यत: लगभग दो मीटर रहत...

Clove

वाणिज्यिक लौंग एक सदाबहार मध्यम आकार के वृक्ष से प्राप्त वायुशुष्कित अनखिली कली है । यह वृक्ष 10-12 मीटर ऊँचाई तक बढता है और लगभग सातवीं साल में इसमें फूल आने लगते है । इसमें 80 या उससे अधिक वर्षों...

Coriander

धनिया खाद्या वस्तुओं को स्वाद एवं सुगंध प्रदान करनेवाली प्रमुख मसाला फसल है। इसका पौधा पतले तनोंवाला, छोटा, झाडीनुमा शाक है, 25-50 से.मी. ऊँचे, इसमें कई शाखाएँ व पुष्पछत्र होते हैं। इसके पत्ते एकान...

जापानी मिन्ट (मेंथा आरवेन्सिस) एक चिरस्थाई शाक है जिसके चढनेवाले प्रकन्द और छोटे घने बालोंवाले, एक दो चतुर्भुजीय शाखाओं वाला ऊर्ध्व तना होता है। पत्ते 2.5-5 से.मी. लंबे, दीर्घायत-अण्डाकार होते है।...

Curry Leaf

करी पत्ता पौधे के पत्ते मसाला है। यह एक सगन्ध पतझडी, पाँच मीटर ऊँचा, 15-40 से.मी. व्यास वाला पौधा है। यह मुख्यत: अहातों में और कुछ हद तक यत्र तत्र बागानों में बढाया जाता है।

Dill

सोआ पिच्छाकार विभाजित पत्तों वाला वार्षिक शाकीय पोधा हैं। इसके पक्व , हल्के भूरे बीजों से खुशबू निकलती है। इसके पत्ते की सुखद गन्ध और तीखा स्वाद होता हैं। इसके बीज और पत्ते, दोनों मसाले हैं ।

Pages